Source: 
Author: 
Date: 
16.01.2019
City: 

राजनीतिक दलों को 20,000 रुपये से ज्यादा जो Corporate Donations मिला है, उसमें से अधिकतर Ruling Bhartiya Janta Party (BJP) के खाते में गया है. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR)ने राजनीतिक दलों की ओर से चुनाव आयोग को सौंपे हलफनामों के आधार पर एक रिपोर्ट तैयार की और इस रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र में सत्तारुढ़ बीजेपी को सबसे ज्यादा 437 करोड़ रुपये चंदा मिला है.

राजनीतिक दलों को 20,000 रुपये से ज्यादा जो कॉरपोरेट चंदा मिला है, उसमें से अधिकतर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खाते में गया है. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR)ने राजनीतिक दलों की ओर से चुनाव आयोग को सौंपे हलफनामों के आधार पर एक रिपोर्ट तैयार की और इस रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र में सत्तारुढ़ बीजेपी को सबसे ज्यादा 437 करोड़ रुपये चंदा मिला है. बीजेपी को मिले चंदे की रकम कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी), सीपीआई, सीपीएम और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को मिलाकर जितना चंदा मिला, उससे करीब 12 गुना ज्यादा है.

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ लोकसभा चुनाव को लेकर गठबंधन करने वाली बहुजन समाज पार्टी (BSP)ने चुनाव आयोग को लिखित में दिया है कि उसे 20,000 रुपये से ज्यादा का कोई चंदा नहीं मिला. बीएसपी पिछले 12 वर्षों से ऐसी ही जानकारी चुनाव आयोग को दे रही है. रिपोर्ट बताती है कि वित्त वर्ष 2017-18 के लिए राष्ट्रीय पार्टियों को 20,000 रुपये से ज्यादा के चंदों के तौर पर कुल 469.89 करोड़ रुपये मिले. संख्या में ऐसे चंदे 4,201 रहे.

बीजेपी को 2,977 चंदों से 437.04 करोड़ रुपये मिले. वहीं कांग्रेस को 777 चंदों के जरिए 26.65 करोड़ रुपये हासिल हुए. वर्ष 2017-18 में राष्ट्रीय पार्टियों को कॉरपोरेट या बिजनेस सेक्टर की ओर से 1,361 चंदों के जरिए 422.04 करोड़ रुपये (कुल चंदे का 89.82%) मिले. वहीं व्यक्तिगत चंदों के तौर पर राष्ट्रीय पार्टियों को 2,772 चंदों के रूप में 47.12 करोड़ रुपये (कुल चंदे का 10.03%) मिले.

जहां तक कॉरपोरेट/बिजनेस सेक्टर से मिले चंदों की बात है तो बीजेपी को सबसे ज्यादा 1,207 चंदों के तौर 400.23 करोड़ रुपये हासिल हुए. व्यक्तिगत चंदों के तौर पर भी बीजेपी को 1,759 चंदों के जरिए 36.71 करोड़ रुपये मिले. कांग्रेस को कॉरपोरेट/बिजनेस सेक्टर की तरफ से 53 चंदों के रूप में 19.29 करोड़ रुपये मिले. वहीं 2017-18 वित्त वर्ष में ही कांग्रेस को 724 व्यक्तिगत चंदों के तौर पर 7.36 करोड़ रुपये मिले.

प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने बीजेपी और कांग्रेस को कुल 164.30 करोड़ रुपये चंदा दिया. दोनों पार्टियों के लिए टॉप दो डोनर्स में इस ट्रस्ट का नाम शामिल है. ट्रस्ट ने बीजेपी को 154.30 करोड़ रुपये (ये पार्टी को मिले कुल चंदे का 35 फीसदी है) चंदा दिया. वहीं ट्रस्ट की ओर से कांग्रेस को 10 करोड़ रुपये (पार्टी को मिले कुल चंदे का 38%)  चंदा दिया गया.

शरद पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी को बीजी शिर्के कंस्ट्रक्शन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड की ओर से 50 लाख और जनकल्याण इलेक्टोरल ट्रस्ट मुंबई की ओर से 50 लाख रुपये का चंदा मिला.

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method