Source: 
Author: 
Date: 
19.12.2018
City: 

बृजेश उपाध्याय, रायपुर. पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के बाद नए सदन में कई ऐसे विधायक पहुंचे हैं जिनकी संपत्ति एक करोड़ से भी ज्यादा है। करोड़पति विधायकों वाले सदन के मामले में छत्तीसगढ़ सबसे पीछे है। यहां इस बार 76 प्रतिशत करोड़पति विधायक ही सदन में पहुंचे हैं। मिजोरम विधानसभा में पहुंचे विधायकों में 90 प्रतिशत ऐसे हैं जिनकी संपत्ति एक करोड़ या इससे भी ज्यादा है।

करोड़पतियों के मामले में तेलंगाना विधानसभा दूसरे नंबर पर

  1. करोड़पतियों के मामले में तेलंगाना विधानसभा दूसरे नंबर है। यहां 119 में से 106 एमएलए यानी 89 प्रतिशत विधायकों की हैसियत करोड़ रुपए या इससे भी ज्यादा है। मध्यप्रदेश से अलग होने वाले छत्तीसगढ़ में इस बार एमपी से 5 प्रतिशत ज्यादा एमएलए करोड़पति हैं। एमपी विधानसभा 81 प्रतिशत करोड़पतियों के साथ तीसरे नंबर है। राजस्थान विधानसभा 79 प्रतिशत करोड़पतियों के साथ चौथे पायदान पर है।

  2. टीएस सिंहदेव सबसे ज्यादा अमीर विधायक 

    पांचों राज्यों में सबसे ज्यादा अमीर छत्तीसगढ़ के कांग्रेस के विधायक और नवनिर्वाचित सरकार में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव हैं। टीएस सिंहदेव की संपत्ति 500 करोड़ रुपए से भी ज्यादा है। दूसरे नंबर पर तेलंगाना के कांग्रेस के विधायक  राजगोपाल रेड्‌डी हैं। इनकी संपत्ति 314 करोड़ से ज्यादा है। पांचवें पायदान पर मिजोरम के एमएनएफ के विधायक रॉबर्ट रोमाविया रॉयटे हैं।

  3. राज्य अमीर विधायक (संपत्ति करोड़ों में) पार्टी
    छत्तीसगढ़ टीएस सिंहदेव (500+) कांग्रेस
    मध्य प्रदेश संजय सत्येंद्र पाठक (226+) भाजपा
    राजस्थान परसराम मोरदरिया (172+) कांग्रेस
    तेलंगाना राजगोपाल रेड्‌डी (314+) कांग्रेस
    मिजोरम रॉबर्ट रोमाविया रॉयटे (44+) एमएनएफ
  4. सबसे गरीब विधायक भी छत्तीसगढ़ का 

    एडीआर (एसोसिएश फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) की रिपोर्ट के मुताबिक पांचों राज्यों में सबसे अमीर विधायक के साथ ही सबसे कम संपत्ति वाला विधायक भी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी से है। चंद्रपुर विधानसभा से निर्वाचित रामकुमार यादव ने हलनामे में महज 30 हजार 464 रुपए बताई है। दूसरे नंबर पर कम संपत्ति वाले विधायक मध्यप्रदेश में भाजपा के रामकुमार डोंगरे हैं। इन्होंने करीब 50 हजार रुपए संपत्ति घोषित की है।

  5. राज्य  सबसे कम संपत्ति वाले विधायक  पार्टी
    छत्तीसगढ़ रामकुमार यादव (30 हजार +) कांग्रेस 
    मध्य प्रदेश राम डांगोरे (50 हजार +) भाजपा
    राजस्थान राजकुमार रोट (1 लाख +) भारतीय ट्राइबल पार्टी
    तेलंगाना सैयद अहमद पाशा कादरी (19 लाख +) आॅल इंडिया मजलिस-ए- इत्तेहादुल मुस्लिमीन
    मिजोरम टीजे लालनुंत्लुंगा (43 लाख +) एमएनएफ
  6. पिछले सदन में भी पांच राज्यों में सबसे अमीर थे टीएस बाबा

    वर्ष 2013 में मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, मिजोरम और छत्तीसगढ़ में चुने के गए सभी विधायकों में भी सबसे ज्यादा संपत्ति टीएस के पास थी। सिंहदेव ने चुनाव के दौरान 514 करोड़ की संपत्ति का शपथ पत्र दिया था। अंबिकापुर क्षेत्र में मकान, सरकारी इमारतें, यात्रियों के लिए बनाए गए सराय, हॉस्पिटल, स्कूल या खेत- अधिकांश पर इनका और इनकी फैमिली का मालिकाना हक है।

  7. कांग्रेस और भाजपा के पांचों राज्यों में करोड़पति विधायक

     

    राज्य कांग्रेस भाजपा
    छत्तीसगढ़ 71 प्रतिशत 93 प्रतिशत
    मध्य प्रदेश 79 प्रतिशत 84 प्रतिशत
    राजस्थान 83 प्रतिशत 79 प्रतिशत
    तेलंगाना  74 प्रतिशत 100 प्रतिशत
    मिजोरम 100 प्रतिशत 100 प्रतिशत
© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method