Source: 
Author: 
Date: 
28.02.2020
City: 

नई दिल्ली: भाजपा को 2018-19 में 742 करोड़ रूपये चंदे में मिले जबकि कांग्रेस को 148 करोड़ रूपये चंदा मिला. इन दलों ने चुनाव आयोग को दिये हलफनामों में यह जानकारी दी है.

एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के अनुसार भाजपा का चंदा 2017-18 के 437.04 करोड़ रूपये से बढ़कर 2018-19 में 742.15 करोड़ हो गया यानी उसके चंदे में 70 फीसद का इजाफा हुआ.

एडीआर के अनुसार कांग्रेस का चंदा 2017-18 के 26 करोड़ रूपये से बढ़कर 2018-19 में 148.58 करोड़ रूपये हो गया. यानी उसका चंदा 457 फीसद बढ़ा. हालांकि पार्टी के चंदे में 2016-17 से 2017-18 के दौरान 36 फीसद की कमी आ गयी थी.

एडीआर ने एक बयान में कहा, ‘भाजपा ने 4483 चंदों से 742.15 करोड़ रूपये मिलने की घोषणा की जबकि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने 605 चंदों से 148.58 करोड़ रूपये मिलने की घोषणा की.’

एडीआर के अनुसार भाजपा को मिला कुल चंदा कांग्रेस, राकांपा, भाकपा, माकपा, और तृणमूल कांग्रेस को मिले कुल चंदे के तीन गुणा से भी अधिक है.

एडीआर की रिपोर्ट में सात राष्ट्रीय दलों को प्राप्त हुई दान राशि का विश्लेषण किया गया है. रिपोर्ट में बताया गया है कि बीएसपी, कांग्रेस,एनसीपी और तृणमूल कांग्रेस ने अपना दान रिपोर्ट निर्धारित समय से पहले प्रस्तुत किया है जबकि सीपीआई ने 3 दिन बाद, सीपीएम ने 21 दिन बाद और बीजेपी ने 31 दिनों की देरी के बाद चुनाव आयोग को जमा किया है.

बसपा ने पिछले 13 वर्षों की तरह इस वित्तीय वर्ष में भी यह दर्शाया है कि पार्टी को 20 हज़ार से अधिका का दान प्राप्त नहीं हुआ है.

Donate Us      

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method