Source: 
Author: 
Date: 
18.02.2018
City: 

अगरतला।

त्रिपुरा के विधानसभा चुनाव के बीच एक चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक त्रिपुरा के 54 विधायक फिर से चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें से एक विधायक की संपत्ति में चौंका देने वाली बढ़ोतरी हुई है। एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक करामाचारा से भाजपा उम्मीदवार दिबा चंद्र ह्ंगखॉल की संपत्ति में 61,165 फीसदी की बढ़ोतरी हुई दिबा चंद्र ने पर्चा भरते वक्त जो हलफनामा पेश किया उसमें कुल 40.02 लाख की संपत्ति घोषित की है।

2013 में दिबा चंद्रा ने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था। तब उन्होंने सिर्फ 6,697 की संपत्ति घोषित की थी। यह रिपोर्ट उस वक्त सामने आई है जब सुप्रीम कोर्ट ने उम्मीदवारों की संपत्ति में अचानक  होने वाली बढ़ोतरी पर कड़ी टिप्पणी की है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि चुनाव लडऩे वाले सभी उम्मीदवारों को अब स्वयं, पत्नी और आश्रितों की संपत्ति के साथ साथ आय का स्रोत भी बताना होगा। उम्मीदवारों को चुनाव आयोग को यह जानकारी भी देनी होगी कि उन्हें या उनके परिवार के किसी सदस्य की कंपनी को कोई सरकार टेंडर मिला है या नहीं। रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि 54 विधायकों की संपत्ति में करीब 47 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

2013 में 54.8 लाख संपत्ति थी जो 2018 में बढ़कर 80.4 लाख हो गई। फिर से चुनाव लड़ रहे विधायकों की संपत्ति में जो औसतन बढ़ोतरी हुई है उसमें सीपीएम सबसे आगे है। भाजपा के जो सात विधायक फिर से चुनाव लड़ रहे हैं उनकी संपत्ति में औसतन 43 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है जबकि सीपीएम के विधायकों की संपत्ति में औसतन 50.96 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। कांग्रेस के दो विधायक जो फिर से चुनाव लड़ रहे हैं उनकी संपत्ति में 50.09 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

सीपीआई के एक मात्र विधायक जो फिर से चुनाव लड़ रहे हैं उनकी संपत्ति में 14.64 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। जिन तीन विधायकों की संपत्ति में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी हुई है वे तीनों भाजपा से हैं। बिश्वबंधु सेन धर्मानगर से चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने संपत्ति में 2 करोड़ की बढ़ोतरी की घोषणा की है। वह सूची में टॉप पर हैं। इसके बाद भाजपा के सुदीप रॉय बर्मन का नंबर आता है। रॉय ने संपत्ति में 1.57 करोड़ की घोषणा की है। राधाकिशोरपुर से उम्मीदवार प्राणजीत सिंघा रॉय ने 1.38 करोड़ की घोषणा की है। 54 विधायकों की संपत्ति में औसत बढ़ोतरी 25.62 लाख हुई है। 

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method