Source: 
Author: 
Date: 
25.10.2019
City: 

पानीपत. हरियाणा की नवनिर्वाचित विधानसभा में 90 में से 84 यानि 93 प्रतिशत विधायक करोड़पति हैं। यह खुलासा एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट से हुआ है। ऐसे विधायकों की तादाद में इस बार लगभग 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, क्योंकि अगर 5 साल पहले जाएं तो 2014 में चुनी गई विधानसभा में 75 विधायक करोड़पति थे। इसके अलावा एक चौंकाने वाला पहलू यह भी है कि 12 विधायकों के खिलाफ विभिन्न आपराधिक केस भी चल रहे हैं। इनमें कांग्रेस सबसे ऊपर है।

चुनाव निगरानी संस्था ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ (एडीआर) ने अपने एक विश्लेषण में बताया है कि हरियाणा के नवनिर्वाचित 90 विधायकों में से 84 विधायक करोड़पति हैं। निवर्तमान विधानसभा में 90 में से 75 विधायकों की संपत्ति एक करोड़ रुपए से अधिक थी, जिसका मतलब है कि करोड़पति विधायकों की संख्या में 10 फीसदी का इजाफा हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार, हरियाणा में मौजूदा विधायकों की संपत्ति का औसत 18.29 करोड़ रुपए है, जबकि 2014 में यह 12.97 करोड़ रुपए था। इनमें 40 में से 37 विधायक भाजपा के, 31 में से 29 विधायक कांग्रेस के शामिल हैं, वहीं दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (जजपा) के 10 विधायक सबसे अमीर हैं, जिनकी औसत संपत्ति 25.26 करोड़ रुपए है।

रिपोर्ट पर गौर करें तो 57 विधायकों की उम्र 41 से 50 वर्ष के बीच है, 62 विधायकों के पास स्नातक या उससे ऊपर की डिग्री है। रिपोर्ट के अनुसार, 90 विधायकों में से 12 पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। आपराधिक मामलों का सामना कर रहे विधायकों में से चार कांग्रेस से, दो भाजपा से और एक जजपा से हैं। दूसरी ओर निवर्तमान विधानसभा में ऐसे विधायकों की संख्या 9 थी। यह अलग बात है कि इसी रिपोर्ट से सामने आए आंकड़ों के मुताबिक 62 विधायक बैचलर या इससे अधिक शिक्षित भी हैं।

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method