Source: 
Amar Ujala
Author: 
Date: 
13.11.2020
City: 

सार
2019 के महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों के दौरान का डाटा
कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना ने अब तक नहीं दिया है खर्च का ब्योरा
जानकारी न देने वालों पर एडीआर ने की कार्रवाई करने की सिफारिश 
सपा, जदयू और आम आदमी पार्टी ने देरी से उपलब्ध कराया विवरण
विस्तार
साल 2019 में हरियाणा और महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान विभिन्न राजनीतिक दलों द्वारा एकत्र की गई और खर्च की गई राशि का ब्योरा सामने आया है। यह विश्लेषण एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) ने प्रकाशित किया है। इस रिपोर्ट के अनुसार दोनों राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में 11 राजनीतिक दलों ने कुल 367.80 करोड़ रुपये जमा किए। वहीं, इन दलों ने कुल खर्च 135.72 करोड़ रुपये किए। इन खर्चों में प्रचार, यात्रा व्यय, उम्मीदवारों पर व्यय, दलों की ओर से प्रत्याशियों की आपराधिक पृष्ठभूमि प्रकाशित करने पर व्यय और अन्य व्यय शामिल हैं। इस रिपोर्ट में छह राष्ट्रीय और नौ क्षेत्रीय दलों का डाटा शामिल है।
एडीआर की इस रिपोर्ट के अनुसार सभी राजनीतिक दलों ने कुल मिलाकर अपने-अपने केंद्रीय मुख्यालयों के माध्यम से 266.706 करोड़ रुपये की राशि एकत्र की और 31.318 करोड़ रुपये खर्च किए। दलों की राज्य इकाइयों ने महाराष्ट्र में 82.652 करोड़ और हरियाणा में 21.75 करोड़ रुपये खर्च किए। बता दें कि राजनीतिक दल चुनाव घोषणा तिथि और चुनाव समाप्ति तिथि के बीच प्राप्त धन की सूचना इस ब्यौरे में देते हैं। यह अवधि चुनाव आयोग की ओर से जारी अधिसूचना के आधार पर तीन सप्ताह से तीन महीने के बीच हो सकती है। यह डाटा चुनाव घोषित तिथि 21 सितंबर 2019 से चुनाव संपन्न होने की तिथि 27 अक्तूबर 2019 के बीच का है। 

आगे पढ़ने के लिए लॉगिन या रजिस्टर करें

Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates. https://www.amarujala.com/channels/downloads?tm_source=text_share

Donate       

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method