Source: 
Aranaad Samachar
http://aranaadsamachar.in/adr-report-2004-21-%E0%A4%8F%E0%A4%A1%E0%A5%80%E0%A4%86%E0%A4%B0-%E0%A4%95%E0%A5%80-%E0%A4%B0%E0%A4%BF%E0%A4%AA%E0%A5%8B%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%9F-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82-%E0%A4%96%E0%A5%81/
Author: 
Staff Reporter
Date: 
26.08.2022
City: 

ADR Report 2004-2021: देश के विभिन्न राष्ट्रीय दलों (Political Parties) ने वित्त वर्ष 2004-05 से 2020-21 के बीच अज्ञात स्रोतों से 15,077 करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि जुटाई. चुनाव सुधार संस्था ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ (ADR) के नए विश्लेषण से यह बात सामने आई है. एडीआर संस्था (ADR report ) ने आठ राष्ट्रीय (National Parties) और 27 क्षेत्रीय दलों (Regional Parties) को अज्ञात स्रोतों से मिली धनराशि का विश्लेषण किया है. संस्था के मुताबिक 2020-21 में राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों ने अज्ञात स्रोतों से कुल 690.67 करोड़ रुपये एकत्रित किए. 

इन राजनीतिक दलों ने जुटाई राशि

राष्ट्रीय दलों में भारतीय जनता पार्टी (BJP), कांग्रेस (Congres), तृणमूल कांग्रेस (TMC), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्सवादी (CPIML), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP), बहुजन समाज पार्टी (BSP), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) और नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) शामिल थीं. वहीं क्षेत्रीय आम आदमी पार्टी (AAP), बीजू जनता दल (BJD), द्रमुक मुनेत्र कषगम (DMK), ऑल इंडिया अन्ना द्रमुक मुनेत्र कषगम (AIADMK), शिवसेना (Shiv Sena), तेलुगु देसम पार्टी (TDP), तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS), जनता दल (JDU), झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM), राष्ट्रीय लोक दल (RLD), शिरोमणि अकाली दल (SAD) और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) प्रमुख हैं.

आयकर रिटर्न और चुनावी हलफनामे से हुआ खुलासा

यह विश्लेषण पार्टियों द्वारा दाखिल आयकर रिटर्न (ITR) और भारत निर्वाचन आयोग (ECI) के समक्ष चंदे के संबंध में दायर हलफनामे पर आधारित है. इससे पता चला है कि वित्त वर्ष 2004-05 से 2020-21 के बीच राष्ट्रीय दलों को अज्ञात स्रोतों से 15,077.97 करोड़ रुपये हासिल हुए. एडीआर ने कहा, “वित्त वर्ष 2020-21 में आठ राष्ट्रीय दलों ने अज्ञात स्रोतों से 426.74 करोड़ रुपये प्राप्त होने की जानकारी दी है, जबकि 27 क्षेत्रीय पार्टियों के मामले में यह धनराशि 263.928 करोड़ रुपये है.”

पैसे जुटाने में टॉप पर कांग्रेस

संस्था के मुताबिक, वित्त वर्ष 2020-21 में कांग्रेस ने अज्ञात स्रोतों से 178.782 करोड़ रुपये हासिल होने का खुलासा किया है, जो राष्ट्रीय दलों को अज्ञात स्रोतों से प्राप्त कुल धनराशि का 41.89 फीसदी है. एडीआर के अनुसार, BJP ने अज्ञात स्रोतों से आय के रूप में 100.502 करोड़ रुपये घोषित किए हैं, जो राष्ट्रीय दलों को अज्ञात स्रोतों से प्राप्त कुल धनराशि का 23.55 फीसदी है.

संस्था ने बताया कि अज्ञात स्रोतों से सबसे ज्यादा धनराशि हासिल करने वाले पांच शीर्ष क्षेत्रीय दलों में वाईएसआर-कांग्रेस (96.2507 करोड़), द्रमुक (80.02 करोड़), बीजद (67 करोड़), मनसे 5.773 करोड़ रुपये और ‘आप’ (5.4 करोड़) शामिल हैं. एडीआर के मुताबिक, 2020-21 में राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों को अज्ञात स्रोतों से हासिल कुल 690.67 करोड़ रुपये में से 47.06 प्रतिशत राशि चुनावी बांड से मिली थी. संस्था ने कहा कि वित्त वर्ष 2004-05 से 2020-21 के बीच कांग्रेस और NCP ने कूपन की बिक्री से कुल 4,261.83 करोड़ रुपये का चंदा जुटाया.

कई गड़बड़ियां पाई गईं

एडीआर के अनुसार, वित्त वर्ष 2020-21 के लिए सात राजनीतिक दलों की ऑडिट और चंदा रिपोर्ट में कई विसंगतियां हैं. इन दलों में टीएमसी, भाकपा, ‘आप’, शिअद, केरल कांग्रेस (एम), ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक (एआईएफबी) और अखिल भारतीय संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (एआईयूडीएफ) शामिल हैं.

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method