Source: 
TV9 Hindi
https://www.tv9hindi.com/state/uttar-pradesh/up-assembly-elections-sixth-phase-27-percent-tainted-sp-candidates-ahead-in-property-and-criminal-cases-1079724.html
Author: 
TV9 Hindi
Date: 
25.02.2022
City: 

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक आठ उम्मीदवारों पर महिलाओं से संबंधित अपराध मामले दर्ज हैं. इसमें दो दो उम्मीदवारों पर बलात्कार का मामला दर्ज है. जबकि सभी दल महिलाओं को लेकर बड़े बड़े दावे करते हैं. 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) के छठे चरण (6th phase) में सभी प्रत्याशियों ने दागियों को सियासी मैदान में उतारा है और इस चरण में 57 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव लड़ रहे 27 फीसदी उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं. इसमें सबसे ज्यादा 40 उम्मीदवार समाजवादी पार्टी के हैं. वहीं 23 फीसदी उम्मीदवार ऐसे भी हैं जिनके खिलाफ आईपीसी की गंभीर धाराओं के तहत मामले दर्ज हैं. वहीं पांचवें चरण में भी 27 फीसदी दागी उम्मीदवार सियासी मैदान में किस्मत आजमा रहे थे. यूपी इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) के विश्लेषण में ये तथ्य सामने आए हैं कि छठे चऱण में 65 महिलाएं मैदान में किस्मत आज रही हैं. ये संख्या पांचवें चरण की तुलना में कम है.

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक छठे चरण में चुनाव लड़ रहे 676 उम्मीदवारों में से 670 उम्मीदवारों के हलफनामों का विश्लेषण किया गया और छह उम्मीदवारों के हलफनामे स्पष्ट नहीं हैं. लिहाजा उनके हलफनामे का विश्लेषण नहीं किया गया है. यूपी इलेक्शन वॉच के प्रधान संयोजक संजय सिंह ने कहा कि 670 उम्मीदवारों में से 182 यानी 27 फीसदी ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी चुनाव आयोग को दी है. वहीं 151 प्रत्याशियों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. इस चरण में समाजवादी पार्टी के 48 प्रत्याशियों में से 40 के खिलाफ मामले दर्ज हैं. एसपी के करीब 83 फीसदी प्रत्याशियों के खिलाफ मामले दर्ज हैं. वहीं बीजेपी इस मामले में पीछे है और उसके 44 फीसदी प्रत्याशियों के खिलाफ मामले दर्ज हैं.

कांग्रेस और बीएसपी के 39 फीसदी प्रत्याशी दागी

इसके साथ ही कांग्रेस के 56 में से 22 और बीएसपी के 57 में से 22 के प्रत्याशी दागी हैं. दोनों ही दलों के 39 फीसदी प्रत्याशी दागी हैं. इसके साथ ही आप के 14 फीसदी प्रत्याशी दागी हैं. जानकारी के मुताबिक छठे चरण में संवेदनशील निर्वाचन क्षेत्र भी सबसे ज्यादा है और इस बार 65 फीसदी निर्वाचन क्षेत्र ऐसे हैं जहां तीन या अधिक दागी उम्मीदवार मैदान में हैं.

बीएसपी प्रत्याशी के खिलाफ हैं सबसे ज्यादा मामले दर्ज

रिपोर्ट में बताया गया है कि बीएसपी प्रत्याशी सुधीर सिंह के खिलाफ सबसे ज्यादा मामले दर्ज हैं. गोरखपुर की सहजनवा सीट से चुनाव लड़ रहे सुधीर सिंह के खिलाफ 27 गंभीर धाराओं के तहत 26 मामले दर्ज हैं. वहीं कुशीनगर की खड्डा सीट से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रत्याशी अशोक चौहान के खिलाफ 23 गंभीर धाराओं में 19 और गोरखपुर विधानसभा क्षेत्र से आजाद समाज पार्टी के उम्मीदवार चंद्रशेखर के खिलाफ 22 गंभीर धाराओं में 16 मामले दर्ज हैं.

आठ प्रत्याशियों पर महिला उत्पीड़न के मामले दर्ज

जानकारी के मुताबिक आठ उम्मीदवारों पर महिलाओं से संबंधित अपराध मामले दर्ज हैं. इसमें दो दो उम्मीदवारों पर बलात्कार का मामला दर्ज है. वहीं आठ के खिलाफ हत्या और 23 प्रत्याशियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है.

एसपी प्रत्याशी हैं सबसे अमीर

छठे चरण के चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी विनय शंकर तिवारी के पास सबसे ज्यादा संपत्ति है. जानकारी के मुताबिक 670 में से 253 प्रत्याशी करोड़पति हैं. इसमें एसपी के 48 में से 45, बीजेपी के 52 में से 42, बीएसपी के 57 में से 44, कांग्रेस के 56 में से 26 और आप के लिए 51 में से 14 प्रत्याशी करोड़पति हैं. इस मामले में गोरखपुर की चिल्लूपर सीट से सपा प्रत्याशी विनय शंकर का नाम सबसे आगे है और उनके पास 67 करोड़ रुपये की संपत्ति है.

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method