Source: 
Author: 
Date: 
27.10.2020
City: 

बिहार विधानसभा के दूसरे चरण में कुल 1463 प्रत्याशी मैदान में हैं जिनमें 502 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं. कुल प्रत्याशियों का यह 34 फीसद हिस्सा है. चुनावी सुधार पर काम करने वाली संस्था एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) ने अपनी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है. कुल उम्मीदवारों में 389 (27 फीसद) ऐसे हैं जिनका नाम गंभीर आपराधिक मामलों में दर्ज हैं. एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, 1463 उम्मीदवारों में 495 (34 फीसद) उम्मीदवार करोड़पति हैं. दूसरे चरण में उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 1.72 करोड़ रुपये है.

दूसरे चरण में भी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के सबसे अधिक उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. आरजेडी के 56 में 36 (64 प्रतिशत) उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. इसके बाद बीजेपी के 46 में से 29 (63 फीसद), कांग्रेस के 24 में 14 (58 फीसद), एलजेपी के 52 में से 28 (54 फीसद), बीएसपी के 33 में से 16 (49 फीसद) और जेडीयू के 43 में से 20 (47 फीसद) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं. इसी तरह गंभीर आपराधिक मामले में भी यही हाल है. आरजेडी के 56 में से 28 (50 प्रतिशत), एलजेपी के 52 में से 24 (46 प्रतिशत), बीजेपी के 46 में से 20 (44 प्रतिशत), कांग्रेस के 24 में से 10 (42 प्रतिशत), बीएसपी के 33 में से 14 (42 प्रतिशत) और जेडीयू के 43 में से 15 (35 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं.

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, 49 उम्मीदवारों ने महिलाओं के ऊपर अत्याचार से संबंधित मामले घोषित किए हैं. इन 49 में से 4 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर बलात्कार (आईपीसी-376) से संबंधित मामले घोषित किए हैं. 32 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर हत्या (आईपीसी-302) से संबंधित मामले घोषित किए हैं. 143 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर हत्या का प्रयास (आईपीसी-307) से संबंधित मामले घोषित किए हैं. बिहार विधानसभा के दूसरे चरण में 94 में से 84 (89 प्रतिशत) संवेदनशील निर्वाचन क्षेत्र हैं, जहां 3 या उससे अधिक उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं.

बिहार में प्रथम चरण का मतदान बुधवार (28 अक्टूबर) को है जिसमें 71 विधानसभा सीटों पर चुनाव है. 28 अक्टूबर को होने वाले मतदान के लिए कुल 1,066 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इनमें से 319 प्रत्याशी पर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. विधानसभा के प्रथम चरण चुनाव के लिए दाखिल नामांकन पत्रों के जांच और नाम वापस लिए जाने के बाद चुनाव मैदान में कुल 1,066 उम्मीदवार हैं. दूसरे चरण में 94 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को मतदान है. तीसरे चरण के लिए 78 विधानसभा क्षेत्र में 7 नवंबर को होने वाले चुनाव के लिए भी नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया जारी है

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method