Source: 
Agniban
https://www.agniban.com/bjp-received-donations-worth-rs-719-crore/
Author: 
AGNIBAN
Date: 
15.02.2024
City: 
New Delhi

आगामी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) से पहले बीजेपी (BJP) ने अपने डोनशन (Donation) की रकम का खुलासा किया है. 2022-23 के दरमियान पार्टी को 720 करोड़ रुपये का डोनेशन मिला है. यह देश के चार बड़े राजनीतिक दलों कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, सीपीआई-एम और नेशनल पीपुल्स पार्टी को मिले कुल चंदे का पांच गुना है. यह जानकारी एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी ADR ने अपनी रिपोर्ट में दी है.

देश की छठी राष्ट्रीय पार्टी, बहुजन समाज पार्टी को वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान 20,000 रुपये से अधिक का कोई चंदा नहीं मिला है. पार्टी पिछले 17 साल से लगातार अपने डोनेशन का खुलासा करती आ रही है. रजिस्टर्ड राजनीतिक दलों को 20 हजार रुपए से ज्यादा की रकम डोनेशन के रूप में मिलने पर उसका खुलासा करना होता है.

चार पार्टियों के कुल चंदे का पांच गुना अकेले बीजेपी को
एडीआर रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी को 7,945 डोनेशन मिले हैं जिसकी रकम 719.08 करोड़ रुपये रही. वहीं कांग्रेस पार्टी ने 894 डोनेशन में 79.92 करोड़ रुपये मिलने का ऐलान किया. बीजेपी को मिला चंदा इसी अवधि में कंग्रेस, आम आदमी पार्टी, नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और सीपीआई (एम) को मिले कुल चंदे से पांच गुना ज्यादा है. एनपीपी पूर्वोत्तर की एकमात्र राजनीतिक पार्टी है जिसे राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल है.

किस राज्य से, कितना चंदा मिला?
एडीआर ने यह भी बताया कि दिल्ली से राष्ट्रीय पार्टियों को कुल 276.202 करोड़ रुपये का चंदा मिला, इसके बाद गुजरात से 160.509 करोड़ रुपये और महाराष्ट्र से 96.273 करोड़ रुपये का चंदा मिला. वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान राष्ट्रीय पार्टियों का कुल चंदा 91.701 करोड़ रुपये बढ़ा है, जो पिछले वित्त वर्ष 2021-22 से 12.09 फीसदी ज्यादा है.

रिपोर्ट के मुताबिक, 2021-22 के दौरान बीजेपी को 614.626 करोड़ रुपये का चंदा मिला था जो 2022-23 में बढ़कर 719.858 करोड़ रुपये हो गया, जो कि पिछले वित्त वर्ष मे मिले चंदे की तुलना में 17.12 फीसदी ज्यादा है. हालांकि, वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान पार्टियों को मिले चंदे में 41.49 प्रतिशत की कमी देखी गई है.

कांग्रेस को मिले चंदे में गिरावट
वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान कांग्रेस पार्टी ने जहां 95.459 करोड़ रुपये का चंदा हासिल किया था, वो 2022-23 के दौरान गिरकर 79.9 करोड़ पर आ गया है. पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में, सीपीआई (एम) को मिले चंदे में 39.56 फीसदी (3.978 करोड़ रुपये) और आप के लिए 2.99 फीसदी या 1.143 करोड़ रुपये की कमी देखी गई है.

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method