Source: 
Asianet News
Author: 
Date: 
04.03.2022
City: 
Lucknow

उत्तर प्रदेश में 6 चरणों का मतदान पूरा हो चुका है। सातवें और अंतिम चरण के लिए बीजेपी, एसपी, कांग्रेस और बीएसपी ने अपनी-अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। सातवें चरण में किस पार्टी के कितने दागी चुनाव में हैं, कितने करोड़पति और कितने पढ़े लिखे चुनाव लड़ रहे हैं, इसे लेकर इलेक्शन वॉच और एडीआर ने सभी दलों के प्रत्याशियों की कुंडली जारी की है। 

यूपी में 7 मार्च को सातवें चरण का मतदान होगा। सातवें और अंतिम चरण मे अपनी किस्मत आजमा रहे 607 उम्मीदवारों में 28 फीसदी यानी 170 प्रत्याशियों पर अपराधिक मामले दर्ज हैं। 131 प्रत्याशियों पर हत्या लूट, बलवा, डकैती जैसी गंभीर धाराओं में केस दर्ज हैं। 

अगर पार्टी वार बात करें तो समाजवादी पार्टी के 45 उम्मीदवारों में 26 प्रत्याशियों पर अपराधिक मुकदमे हैं। बीजेपी के 47 में से 26 पर, बीएसपी के 52 में 20 पर और कांग्रेस के 54 में से 20 प्रत्याशियों पर अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

गंभीर अपराधों में दर्ज केस की बात करें तो एसपी के 45 में से 20 प्रत्याशियों पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज हैं। बीजेपी के 47 में 19 प्रत्याशियों पर, बीएसपी के 52 में 13 पर, कांग्रेस के 54 में 12 और आप पार्टी के 43 में 7 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

सातवें चरण में अगर सबसे दागी उम्मीदवारों की बात करें तो प्रगतिशील मानव समाज पार्टी से भदोही ज्ञानपुर सीट से चुनाव लड़ रहे विजय मिश्रा सबसे ऊपर है. विजय मिश्रा पर 24 केस दर्ज है। गाजीपुर के बीएसपी प्रत्याशी राजकुमार सिंह गौतम पर 11 मामले दर्ज हैं और कांग्रेस के पिंडरा विधानसभा से प्रत्याशी अजय राय पर 17 मामले दर्ज हैं। 

अब अगर धन्ना सेठ प्रत्याशियों के बात करें तो इस सातवें चरण में 607 में से 217 प्रत्याशी करोड़पति हैं. बीजेपी के 40 प्रत्याशी, सपा के 37, बसपा के 41, कांग्रेस के 22 और आप पार्टी के 15 प्रत्याशी करोड़पति हैं। 

इन करोड़पति प्रत्याशियों में आजमगढ़ के मुबारकपुर सीट से एआईएमआईएम के प्रत्याशी गुड्डू जमाली सबसे ऊपर है, जिनकी कुल संपत्ति 195 करोड़ है. वहीं पिंडरा विधानसभा से बीएसपी प्रत्याशी बाबूलाल के पास 44 करोड़ की संपत्ति है और आजमगढ़ के निजामाबाद सीट से बीएसपी प्रत्याशी पीयूष सिंह के पास 34 करोड़ की संपत्ति है. सातवें चरण में प्रत्याशियों की औसतन संपत्ति की बात करें तो यह दो करोड़ 55 लाख रुपये है। 

दागी, करोड़पति उम्मीदवारों के बाद अगर प्रत्याशियों की शिक्षा के बात करें तो 214 उम्मीदवार पांचवी से 12वी के बीच पढ़ाई की है। 346 ग्रेजुएट और उससे अधिक पढ़े हैं। 30 उम्मीदवारों को सिर्फ अक्षर ज्ञान है और 4 तो साक्षर भी नहीं है। 

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method