Source: 
Navbharat Times
Author: 
Date: 
04.03.2022
City: 
Lucknow

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (UP Election 2022) के सातवें चरण (UP Seventh Phase Election) के उम्मीदवारों में 28 फीसदी यानी 170 प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। वहीं, 22 प्रतिशत यानी, 131 उम्मीदवार ऐसे हैं, जिनपर गंभीर धाराओं में मामले दर्ज हैं। सातवें चरण की विधानसभा सीटों के प्रत्याशियों के हलफनामों की पड़ताल के बाद एडीआर ने यह रिपोर्ट जारी की है। एडीआर रिपोर्ट (ADR Report) के मुताबिक सातवें चरण में 54 सीटों पर 613 प्रत्याशी मैदान में हैं। इनमें 607 के शपथपत्र का विश्लेषण किया गया है। सातवें चरण में 75 महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

एडीआर के मुताबिक, सपा के 45 में 26 प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें 20 पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। बीजेपी के 47 में 26 प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले हैं, जिनमें 19 में गंभीर धाराएं हैं। बसपा के 52 में 20 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले हैं, जिनमें 13 गंभीर मामले हैं। कांग्रेस के 20 प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस हैं, जिनमें 12 गंभीर प्रकृति के मामले हैं। आप के 8 प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले हैं, जिनमें सात में गंभीर धाराए हैं।

विजय मिश्रा पर सबसे ज्यादा मामले
इस चरण के उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा 24 आपराधिक मामले प्रगतिशील मानव समाज पार्टी के विजय मिश्रा पर दर्ज हैं। वह भदोही की ज्ञानपुर सीट से उम्मीदवार हैं। गाजीपुर सीट से बसपा के राजकुमार सिंह गौतम पर 11 मामले दर्ज हैं। पिंडरा से कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय के ऊपर 17 मामले दर्ज हैं।

दो पर बलात्कार के आरोप
दो उम्मीदवारों ने अपने ऊपर बलात्कार से संबंधित मामले घोषित किए हैं। 7 उम्मीदवारों ने हत्या से संबंधित मामले घोषित किए हैं। 25 उम्मीदवारों पर हत्या के प्रयास के आरोप हैं। सातवें चरण में 35 संवेदनशील निर्वाचन क्षेत्र हैं। यहां पर तीन या उससे ज्यादा उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

607 में 217 उम्मीदवार करोड़पति
सातवें चरण में 217 प्रत्याशी करोड़पति हैं। दलवार उम्मीदवारों की बात करें तो भाजपा के 40, सपा के 37, बसपा के 41, कांग्रेस के 22 और आप के 15 प्रत्याशी करोड़पति हैं। सबसे ज्यादा अमीर प्रत्याशी मुबारकपुर सीट से एआईएमआईएम के प्रत्याशी गुड्डू जमाली हैं, जिनकी संपत्ति 195 करोड़ रुपये है। पिंडरा से बसपा उम्मीदवार बाबूलाल की संपत्ति 44 करोड़ रुपये है। बसपा की निजामाबाद सीट से प्रत्याशी पीयूष सिंह ने अपनी संपत्ति 34 करोड़ रुपये बताई है।

35 फीसदी प्रत्याशियों की अधिकतम योग्यता 12वीं
214 यानी 35 फीसदी उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता 5वीं से 12वीं के बीच घोषित की है। 57 फीसदी उम्मीदवार ग्रैजुएट या इससे ज्यादा योग्यता के हैं। 10 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता डिप्लोमा घोषित की है। 30 उम्मीदवार महज साक्षर हैं जबकि 4 ने स्वयं को निरक्षर घोषित किया है।

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method