Source: 
Author: 
Date: 
04.10.2015
City: 
New Delhi

बिहार के पहले चरण में कुल 583 उम्मीदवार मैदान में उतर चुके हैं लेकिन इसमें 130 यानी 22 फीसदी उम्मीदवार हत्या, डकैती, महिलाओं के खिलाफ अपराध और सांप्रदायिक वैमनस्य फैलाने जैसे गंभीर आरापों में लिप्त हैं। इनमें भाजपा सबसे ऊपर है जिसके 27 उम्मीदवारों में से आधे से ज्यादा उम्मीदवार यानी 14 पर प्रत्याशियों आपराधिक मामले हैं।

एडीआर ने पहले चरण की  37 विधानसभा सीटों पर रेड अलर्ट घोषित की हैं। क्योंकि यहां आपराधिक इतिहास वाले उम्मीदवारों की संख्या तीन से ज्यादा है। इस चरण की 49 सीटों पर चुनाव 12 अक्तूबर को होगा।

जहां तक पूंजीपतियों का सवाल है तो प्रथम चरण की सीटों पर 146 उम्मीदवार ऐसे हैं जो करोड़पति हैं। धन के मामले में भी भाजपा सबसे आगे है, उसके कुल 27 उम्मीदवारों में 18 करोड़पति हैं। जदयू में 19, राजद में 6 तथा कांग्रेस में 6 करोड़पति नेता चुनाव लड़ रहे हैं।

तीन उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके पास सबसे ज्यादा पैसा है इनमें समस्तीपुर से निर्दलीय बीके सिंह 74 करोड़, खगडि़या से जदयू की पूनम यादव 41 करोड़ तथा भागलपुर से कांग्रेस के अजीत सर्मा 40 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ सबसे धनी होकर उभरे हैं।

यहां उम्मीदवार गरीबी में भी रिकार्ड बना रहे हैं, बेगूसरापय और हिसुआ से खड़े दो उम्मीदवारों के पास फूटी कौड़ी भी नहीं है। वहीं बडबीगहा सेयोगेश्वर मांझी ने कुल 954 रुपये की संपत्ति घोषित की है। 
इन सीटों पर 218 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्होंने कभी आयककर रिटर्न ही नहीं भरा। ऐसे लोगों में वे 9 उम्मीदवार भी शामिल हैं जिन्होंने अपनी संपत्ति करोड़ों रूपयों में घोषित की है।

पहला चरण : 
गंभीर अपराधों में  आरोपी उम्मीदवार 130, सामान्य अपराधों वाले उम्मीदवार 174
हत्या के आरोपी 16(वरसालीगंज से जदयू के प्रदीप कुमार पर हत्या के चार केस हें)

हत्या के प्रयास के आरोपी : 37 (हिसुआ से निर्दलीय रामकृपाल यादव के खिलाफ ऐसे पांच आरोप हैं)

महिलाओं के खिलाफ अपराध : 11

सांप्रदायिक वैमनसय : 2

डकैती और लूट : 5

अपहरण : 9

पार्टीवार आरोपी उम्मीदवार : 
भाजपा 14, सीपीआई : 14, बसपा : 8, जदयू : 11, सपा: 9, राजद : 9, कांग्रेस : 6, एलजेपी :8,

सीपीएम : 8, निर्दलीय : 45

पार्टीवार करोेड़पति : 
भाजपा : 18, जदयू : 19, राजद : 11, सपा : 4, कांग्रेस : 6, एलजेपी :8, बसपा : 3 तथा 42 निर्दलीय उम्मीदवार हैं। 
शैक्षिक योग्यता :
 
12वीं पास या उससे कम पढ़े उम्मीदवार 332, ग्रेजुएट : 241, तीन निरक्षर 

Donate       

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method