Source: 
Author: 
Date: 
21.11.2014
City: 
Srinagar

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग 25 नवंबर को होनी है। पहले चरण के लिए 123 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें से 46 करोड़पति हैं। ये खुलासा चुनाव सुधारों पर काम कर रहे गैर सरकारी संगठन एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी एडीआर की रिपोर्ट से हुआ है। रिपोर्ट खुद उम्मीदवारों द्वारा भरे गए हलफनामे पर आधारित है।

करोड़पति उम्मीदवारों में नेशनल कॉन्फ्रेंस के उम्मीदवार सबसे ऊपर हैं। पार्टी के 9 उम्मीदवारों ने अपनी संपत्ति एक करोड़ से अधिक बताई है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के बाद राज्य की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी पीडीपी के 7 उम्मीदवारों के नाम करोड़पति उम्मीदवारों की लिस्ट में शामिल है। बीजेपी के 6, कांग्रेस के 5, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के 2, बीएसपी के 2, जम्मू कश्मीर मजदूर पार्टी के 1 और समाजवादी पार्टी के 1 उम्मीदवार इनमें शामिल हैं। चुनाव के पहले चरण के अंतर्गत भाग्य आजमा रहे 13 निर्दलीय ऐसे हैं जिन्होंने अपनी संपत्ति करोड़ों में बताई है।

एडीआर के अनुसार चुनाव लड़ने वाले हर उम्मीदवार की औसत संपत्ति 1.42 करोड़ रुपये है। पहले चरण के लिए चुनाव मैदान में खड़े नेकां के उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 3.39 करोड़ रुपये है। पीडीपी के उम्मदवारों की औसत संपत्ति 2.42 करोड़ रुपये है। कांग्रेस में ये 1.43 करोड़ तो भाजपा में 1.40 करोड़ रुपये है। चुनाव में खड़े तीन उम्मीदवारों की संपत्ति 10 करोड़ रुपये से अधिक है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख नेता और वन मंत्री मियां अल्ताफ की संपत्ति 13 करोड़ 83 लाख 42 हजार 596 रुपये है जबकि पीडीपी के काजी यासिर रेशी की 13 करोड़ 41 लाख 03 हजार 377 रुपये है। राज्य के गृहमंत्री सज्जाद किचलू की संपत्ति 10 करोड़ 77 लाख 30 हजार 382 रुपये है।

सबसे कम संपत्ति रखने वाले उम्मीदवारों में भाजपा के नजीर अहमद रैना हैं जो कंगन विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं। रैना की संपत्ति 20 हजार रुपये है। एडीआर के अनुसार पहले चरण में खड़े 4 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले भी दर्ज हैं। इन उम्मीदवारों पर अपहरण और जालसाजी जैसे आपराधिक मामले हैं।

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method